for GST क्‍या है इसके तहत कैसे काम होता है? जीएसटी क्या है और इसके प्रकार - What is GST in Hindi - हिंदी में जानकारी पढ़िए GST के बारे में सबकुछ, आसान भाषा में - all ... GST Bill kya hai? – GST India-Goods and Services Tax in India - A To Z Web Information

Latest

Sponsor

BANNER 728X90

GST क्‍या है इसके तहत कैसे काम होता है? जीएसटी क्या है और इसके प्रकार - What is GST in Hindi - हिंदी में जानकारी पढ़िए GST के बारे में सबकुछ, आसान भाषा में - all ... GST Bill kya hai? – GST India-Goods and Services Tax in India

GST क्या है, ये कब आया था, GST से के बारे जानते हैं पूरा detailतो

GST क्या है ? क्यों जरूरी है, जीएसटी की मुख्य ...

GST क्या है 

GST का मतलब यह है की TAX आप जो भी खरीद करते हैं उस पर tax लिया जाता हैं जिससे goverment को काफी फायदा होता हैं इसमें कोई भी tax हो सकता है आप कुछ भी buy करते हैं न जैसे की shoe, water, salt कुछ भी kharidne पर आपको tax देना पड़ता है अगर आप ये समझ ते है की हमने तो Oil buy किया और सुर्फ़ Oil का पैसा दिया तो आप बिलकुल गलत है आप कुछ भी सामान खरीद ते समय price check कर लेना उसमें लिखा रहता है की included tax उसमें पहले से tax जोड़ दिया जाता है आप कुछ भी buy करते हैं समय उसमें सामान के साथ साथ tax को भी ऐड कर दिया जाता है

समय समय पर goverment को अपने फायदा के लिए उसमें change करते रहते हैं उसमें आम आदमी की मार होती है उसमें सारा नुकसान आम आदमी की होती है आप किसी होटल me खाना खाए तो उसका भी tax देना होता हैं आप कुछ सामान खरीद की जैसे फेन ac तो इस पर भी tax देना होता कितना tax लगता हम आपको आगे बताएँगे
TAX को change बीजेपी government 2016 किया था इसमें क्या क्या change किया गया था आप हम इस पोस्ट me बताएँगे और किस पर कितना tax लगाया ये भी बताएँगे तो चलिए शुरू करते है
GST काम कैसे करता है 

GST क्या है, GST का मतलब क्या है, हिंदी

GST (goods and service tax) इसका मतलब यह है की Congress के समय दूसरा सब को अलग अलग tax देना होता था मगर 2016 me इसे change कर एक ही tax कर दिया इसमें लोग कहते हैं की tax me सुधार होगा मगर जो tax pay करते उनका कहना कुछ और है अगर आप कुछ भी सामन buy किया तो आपको सिर्फ एक tax देना होगा आपको central और satate को अलग अलग tax नहीं देना होगा central tax pay करेंगी satete को इसी को बोलते है one tax पहले जितनी भी tax लगते थे indirect tax, service tax, entertainment tax ये सभी को GST me ऐड कर दिया है

 जीएसटी क्या है और इसके प्रकार - What is GST in Hindi - हिंदी में जानकारी

GST को समझना बहुत ज़रूरी है, की आप कितना tax दे रहे है अपनी goverment को, पोस्ट को पढ़े,
जब कोई फैक्ट्री कच्चा माल खरीद कर कोई सामन बनाया जाता है इसमें बहुत सारे tax लगते है तो चलिए हम आपको बताते हैं की GST आने के पहले का tax किस टाइप के लगते थे तो चलिए शुरू करते

GST me कितना tax लगता हैं 

अगर मान लीजिये कोई फैक्ट्री कोई सामान बनाते मान लीजिये एक shoe को बनाया कच्चा माल से लेकर पूरा जूता बनाने का पूरा खर्च 500 रुपया है तो हम सब तक आने me इसका price कितना रहेगी तो चलिए जानते है
कोई फैक्ट्री 500 रुपया की जूता बनाया है तो सबसे पहले फैक्ट्री से holeseller खरिदी करेगा फैक्ट्री वाले के तो कुछ फायदा होना चाहिए न तो इस पर tax lagayega मान लीजिये फैक्ट्री वाले ने उसपे 10% tax लगाई है तो shoe का price 550 रूपए हो जायगा holeseller को 550 रूपए shoe को खरीदना पड़ेगा उसके बाद reaiteler को holeseller से खरीद ना होगा तो इस holeseller वाले tax को ऐड करेगा तभी तो इसका income होगा अगर

Goods and Services Tax (India): जीएसटी इन हिंदी, GST ...

मान लीजिये holeseller ने इस पर 10% का tax ऐड किया तो shoe का price 605 रुपए हो जायेगा 605 रुपए me reaiteler को shoe को खरीद ना होगा उसके बाद reaiteler ने मिनी reaiteler को देगा तो उस पर अपना income tax को ऐड करेगा मान लीजिये ये भी 10% tax add किया तो shoe का price Around 665 रुपए हो जायेगा तो मिनी reaiteler को 665 रुपए shoe को खरीद ना होगा उसके बाद वो अपने customer को shoe बेचे गा तो मिनी reaiteler पर depends करेगा की वो कितना me sell करेगा मिनी reaiteler तो loss me होकर sell तो करेगा नहीं अगर मान लिया जाये की मिनी reaiteler ने भी 10% ADD यानी income को ADD कर sell कर दिया तो shoe का price 665+66.5 इतना ऐड किया तो 731 रुपए me sell करेगा तो फैक्ट्री से आने तक और customer आने तक का कितना अन्तर आया है फैक्ट्री 500 रुपया और customer तक 731 रुपए ये सब tax को इतना add कर दिया जाता है की सामान का price काफी बढ़ जाता हैं इसका सबसे ज्यादा loss आम आदमी की होती है ये था पहले का tax को rule GST आने से पहले का tax calculated ऐसे किया जाता था पहले पूरा amount पर tax जोड़ा जाता था

लेकिन GST आने के बाद कुछ change किया जो इस प्रकार है इसे भी ध्यान से पढ़े 

GST आने के बाद tax me तो बहुत change हुआ है पहले पूरा amount पर tax लगता था अब GST आने के बाद इसमें पूरा amount पर tax नहीं लगता है बल्कि tax पर लगता हैं मतलब की

अगर shoe 500 रुपया की है तो उससे holeseller 10% tax दे कर खरीद गा यानी 550 रूपए holeseller buy करेगा और जब reaiteler holeseller से buy करेगा तो वो पूरा amount यानी 550 रूपए पर tax नहीं देगा यानी सिर्फ 50 रुपए पर tax देना होगा तो 50 रुपए पर 10% का tax तो 5 रुपए हो जायेगा यानी reaiteler ने holeseller से 550 +5 यानी 555 रुपए me buy करेगा

GST आने के पहले का holeseller से shoe को 605 रुपए me reaiteler buy करना था
मगर GST आने के बाद इसी shoe को 555 रूपए buy करेगा तो इस तरह से GST आने के बाद taxes me change किया गया है
GST आने के के बाद आप सारा tax central को देना होगा central. State को devide करेगा

type of gst in hindi


CGST SGST, IGST क्या है अर्थ होता हैं इस word का

CGST---- अगर आपको कोई भी सामान आपने ही राज me  sell कर रहे हैं तो आपको CGST देना होगा और SGST
UGST ----अगर आप कोई सामान दुसरे राज में sell करना चाहते है तो आपको iGST tax देना होगा इसके लिए आपको GST नंबर की ज़रूरत होगी.
आइये जानते हैं की GST आने के के बाद आप किस चीज पर कितना tax देना होगा

किन चीज पर tax नहीं देना होगा

Milk, अंडा खुला पनीर aata, बेसन, sabji का Oil, sahd, maida, पान, ganna ये सभी कोई tax नहीं देना होगा

5% tax वाले चीज

चीनी चाय, kofi, milk, powder,  दूद से बना हुआ खाद्य, घनीभूत दूद, पैक्ड पनीर, Newsprint,  केरोसिन, LPG, चुकंदर, ग्रेफाइट, चाक, बरती, CALCIUM, फॉस्फेट इन सब पे 5% tax लगेगा
.
 12% tax वाले चीज

Butter, ghee, mobile, coconut, bio gas, फल, juis packs

18% tax वाले चीज

मका, लछे, jams, सूप, ice cream, toilets, facial tissue, लोहा, इस्पात, Fountain pen, fluorine, chlorine, hair Oil    toothpaste, पास्ता  मोम इन सब पे 12% टैक्स लगेगा.

27% tax वाले चीज

 Sampoo, make up, bike, गाड़ी, Hair dyes,Hair cream, फटाके कार, cement, chimwimgum, perfeum powder    इन सब पे 28% tax लगेगा
आप को GST आने के पहले का tax और GST आने के बाद का tax को आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे Thank you so much

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें